: Department of Financial Services, Government of India

सरकारी क्षेत्र की बीमा कंपनियां

राष्ट्रीयकृत बीमा कंपनियां



भारतीय जीवन बीमा निगम

संसद ने 19 जून 1956 को भारतीय जीवन बीमा अधिनियम बनाया और 1 सितम्बार 1956 को भारतीय जीवन बीमा निगम रहेजा क्यूाबीई साधारण बीमा कम्पमनी लिमिटेड की स्थानपना देश में सारे बीमेय व्य‍क्तियों तक पहुचने की दृष्टि के साथ विशेषत: ग्रामीण क्षेत्रों में बहुत ज्यािदा व्यायपक तौर पर प्रसार करने उन्हेर वाजिब लागत पर पर्याप्ति वित्तीकय सुरक्षा उपलब्धू कराने के उद्देश्यो को लेकर हुई। भारतीय जीवन बीमा धंधे के संगठन का खास मकसद देश में जीवन बीमा के संदेश को फैलाना ओर राष्ट्र निर्माण की क्रियाओं के लिए जनता की बचत को गति प्रदान करना था।

भारतीय जीवन बीमा निगम अपने मुम्ब,ई के प्रधान कार्यालय तथा कोलकाता, मुम्बेई, दिल्लीी, चेन्न ई, हैदराबाद, कानपुर, पटना ओर भोपाल के साथ साथ 31-03-2010 तक 109 मण्डकली कार्यालयों व मुम्बनई मे एक वेतन बचत योजना (एस एस एस), 2048 शाखा कार्यालयों और 1004 सेटेलाईट कार्यालयों के माध्यडम से व्यंवसाय करता है।

निगम विदेश में भी व्य वसाय करता है और इसके शाखा कार्यालय फि‍जी, मोरिशस और यूनाईटेड किंगडम में भी है। जीवन बीमा निगम, जीवन बीमा निगम (अर्न्तयराष्ट्री य) बी एस सी (सी), मनामा (बहरीन) में पंजीकृत, नेराबी में पंजीकृत, केन्डिया बीमा कंपनी लिमिटेड (कीन्याय), काठमाण्डुी में पंजीकृत जीवन बीमा निगम लिमिटेड(नेपाल) कोलम्बोी में पंजीकृत जीवन बीमा निगम (लंका) लिमिटेड, रियाद में पंजीकृत सहकारी बीमा की सऊदी भारतीय कंपनी, लुईस मारीशस में पंजीकृत जीवन बीमा (मारीशस) आफशोर लिमिटेड, भारतीय जीवन बीमा निगम और भारतीय सामान्यय बीमा निगम के बीच संयुक्तब उपक्रम कंपनी है। ऐसे नामों वाले संयुक्त उपक्रम कंपनियों के माध्याम से समुद्रीपारीय बीमा व्यमवसाय भी करता है।

हाल ही में एक प्रतिनिधि कार्यालय सिंगापुर में सिंगापुर बीमा बाजार में प्रवेश करने के उचित रास्तेए खोजने के मकसद से नियामक मुद़दों का अध्यायन करने और बाजार सम्भाबवना का मूल्यां कन करने के लिए स्थाापित किया गया।

उपरोक्तब में से केन्डिया एश्यायरेंस कंपनी लिमिटेड नेरोबी कीनिया और रियाद सहकारी बीमा के लिए सऊदी बीमा कंपनी, सऊदी अरब के राजा की जीवन और गैर जीवन व्य‍वसाय करने की साझेदार कंपनियां हैं।